भोपाल में अंतर्राष्ट्रीय धर्म-धम्म सम्मेलन 22-23 सितम्बर को

श्रीलंका के राष्ट्रपति श्री महेन्द्रा राजपक्षे भी होंगे शामिल

भोपाल में 22-23 सितम्बर को होने वाले दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय धर्म-धम्म सम्मेलन में श्रीलंका के राष्ट्रपति श्री महेन्द्रा राजपक्षे सहित ब्रिटेन, फ्रांस, नीदरलैंड, वियतनाम, चीन, इस्राइल, मिश्र, इण्डोनेशिया जापान आदि लगभग 22 से अधिक देश के अध्येता और दार्शनिक सम्मिलित होंगे। यह जानकारी संस्कृति मंत्री श्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने नई दिल्ली में दी। यह सम्मेलन मध्यप्रदेश संस्कृति विभाग एवं सेन्टर फॉर द स्टडी ऑफ रिलीजन एण्ड सोसाइटी (CSRS) नई दिल्ली तथा महाबोधि सोसायटी श्रीलंका द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है।

श्री शर्मा ने बताया कि 21 सितम्बर 2012 को साँची जिला रायसेन में बौद्ध़ विश्वविद्यालय का भूमि-पूजन होगा। विश्वविद्यालय का नाम साँची यूनिवर्सिटी ऑफ बुद्धिज्म रखा जायेगा। इस पर लगभग 200 करोड़ का व्यय होगा। उन्होंने बताया कि महान भारतीय परम्परा, उसके बहुविध आयामों, समन्वित धार्मिक भारतीय परम्पराओं की केन्द्रीय थीम पर धर्म और धम्म सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। इस बहुविध और समन्वित परम्परा ने भारतीय जीवन दृष्टि और विचारों को गहरा प्रभावित किया है। हिन्दू और बौद्ध धर्म का यही आधारभूत सिद्धांत भी है। इस अंतर्राष्ट्रीय धर्म समागम में विभिन्न सभ्यताओं पर संवाद और समन्वय होगा। संस्कृति मंत्री ने कहा कि यह अंतर्राष्ट्रीय गोष्ठी अनेक अर्थों में अत्यंत महत्वपूर्ण विचार-विनिमय की पहल है और साँची सहित प्रदेश के अन्य स्थानों की आध्यात्मिक संपदा को भी उजागर करेगी।

सेन्टर फॉर द स्टडी ऑफ रिलीजन एण्ड सोसाइटी के डॉ. विनय सहस्रबुद्धे ने बताया कि दो अतिप्राचीन विचारधाराओं के पक्ष को रोशन करना इस सम्मेलन का उद्देश्य है। गायत्री परिवार के डॉ्. प्रणव पण्ड्या को उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है। लगभग 120 से अधिक अध्येता इस सम्मेलन में अपने शोध आलेख भी प्रस्तुत करेंगे। शोध आलेखों में से लगभग 40 आलेख विदेशों के होंगे। सम्मेलन के अंत में साँची-भोपाल घोषणा जारी की जायेगी जो सम्मेलन का सार होगा।

इस सम्मेलन की संरक्षण समिति में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, शंकराचार्य जयेन्द्र सरस्वती, विख्यात दार्शनिक डॉ. लोकेश चन्द्र तथा लाम्बा लोकजेंक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*