भोपाल में लगेगा राष्ट्रीय स्तर का विज्ञान मेला

देश में भोपाल ऐसा पहला शहर है जहां राष्ट्रीय स्तर का विज्ञान मेला आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग तथा विज्ञान भारती के संयुक्त तत्वावधान में हर साल यह मेला लगाने का निर्णय लिया गया है।

मेला राजधानी के लाल परेड ग्राउंड में 25 से 28 फरवरी के मध्य लगाया जाएगा। यह जानकारी देते हुए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि इससे पहले भोपाल, इंदौर में राष्ट्रीय स्तर के मेलों का आयोजन किया जा चुका है जिसकी वजह से बच्चों में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत हुई। श्री विजयवर्गीय सोमवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मेले में लगातार सेमीनार आयोजित किए जाएंगे, जिनमें संबोधन के लिए विशेषज्ञ आमंत्रित किए गए हैं। इनमें पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम भी शामिल हैं हालांकि उनकी अब तक स्वीकृति प्राप्त नहीं हुई है। श्री विजयवर्गीय ने कहा कि मेले का उद्देश्य बच्चों में विज्ञान के प्रति रुचि पैदा करना, छोटे-छोटे आविष्कार करने वाले वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित करना, स्वदेशी विज्ञान में शोध एवं उपलब्धियों को प्रस्तुत करना, आधुनिक प्रौद्योगिकी एवं भावी रुझानों को प्रोजेक्ट करना है।

उन्होंने कहा कि रिसर्च तथा डेवलपमेंट के लिए बच्चों में विज्ञान के प्रति रुचि जरूरी है। उन्होंने कहा कि मेले में रिसर्च एंड डेवलपमेंट, कृषि, परंपरागत चिकित्सा, हस्तशिल्प, औषधीय वनस्पतियां, एरोनाटिक्स तथा जैव विविधता आदि विभाग के पवेलियन लगाए जाएंगे। मेले में पांच लाख लोगों के हिस्सा लेने की संभावना है। इस अवसर पर मप्र विज्ञान प्रौद्योगिकी परिषद के महानिदेशक पीके वर्मा भी उपस्थित थे।

मेले के आकर्षण :

लाल परेड में लगने वाले विज्ञान मेले के आकर्षण विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी एक्सपो, ग्रामीण एवं निम्न लागत एक्सपो, नवाचार पवेलियन, तकनीकी शिक्षा पर पवेलियन, जलवायु परिवर्तन पर पवेलियन, सेमीनार एवं गोलमेज सम्मेलन, विज्ञान जगत की विख्यात हस्तियों का छात्रों के साथ संवाद तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।

साभारः दैनिक जागरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)