फीचर्स

बिहार में चिंताजनक है भूमिगत जल स्तर की स्थिति

उमाशंकर मिश्र Twitter : @usm_1984@ नई दिल्ली, 10 जुलाई (इंडिया साइंस वायर):बिहार के कई जिलों में भूमिगत जल स्तर की स्थिति पिछले 30 सालों में चिंताजनक हो गई है। कुछ जिलों में भूजल स्तर दो से तीन मीटर तक गिर गया है। एक ताजा अध्ययन के अनुसार, भूजल में इस ... Read More »

राजनीति को राजनीति की भाषा में भाषा का पाठ पढ़ाने का उचित समय

विनोद बब्बर किसे याद न होगा आज से लगभग पांच वर्ष पूर्व उस समय  भाजपा अध्यक्ष और वर्तमान में केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘एक समय भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था। आधुनिकता की चकाचौंध में सबकुछ खो गया है। मैं कहना चाहता हूं कि सबसे ... Read More »

सहानुभूति पूर्ण व्यवहार विक्षिप्त व्यक्तियों को मुख्य धारा से जोड सकता है

सहज संवाद डा. रवीन्द्र अरजरिया समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्यों के लिए समर्पित व्यक्तियों को सम्मानित करने के लिए सरकारों ने विभिन्न पुरस्कारों की व्यवस्था की है ताकि समर्पित भावनाओं को प्रेरणास्रोत बनाकर देश का विकास किया जा सके। यह क्रम अनादि काल से चला आ रहा है। ... Read More »

मणिपुर की लोकटक झील में मिले कई उपयोगी जीवाणु

शुभ्रता मिश्रा Twitterhandle : @shubhrataravi वास्को-द-गामा (गोवा), 9 जुलाई(इंडिया साइंस वायर):मणिपुर की लोकटक झील दुनियाभर में अपने तैरते हुए द्वीपों या फूमदी के लिए जानी जाती है। वनस्पतियों, मिट्टी और जैविक तत्वों से बनी फूमदी झील पर तैरते हुएकिसी भूखंड की तरह लगती है।भारतीयवैज्ञानिकों ने लोकटक झील तथाउसमें पायी जाने ... Read More »

प्रोफेसर प्रशान्त चन्द्र महालनोबिस

नवनीत कुमार गुप्ता अखबारों में हम विभिन्न विषयों पर किए गए सर्वेक्षणों पर आधारित खबरें अक्सर पढ़ते रहते हैं। एक समय ऐसा भी था, जब भारत में सर्वे संबंधी कार्यों और उसके महत्व के बारे में देश के बहुसंख्य लोग परिचित नहीं थे। उस दौर में प्रोफेसर प्रशान्त चन्द्र महालनोबिस ... Read More »

आदमियत के मिज़ाज में इतना ज़बरदस्त बदलाव !

रितु शर्मा चिलचिलाती धूप में एक पेड़ की छांव तले बने प्याऊ मानवीय करुणा के प्रतीक से कम नहीं, लेकिन पीने के गिलासों को चेन में बँधा देखकर हैरानी होती है. शायद ठीक भी होगा, क्योंकि आदमी की नीयत का क्या भरोसा, पानी पीने के बाद बर्तन भी साथ रख ... Read More »

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में शोध की नई पहल

फीचर नवनीत कुमार गुप्ता Twitter handle : @navneetkumargu8 आने वाला समय कृत्रिम बुद्धिमत्ता यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का होगा। एक अनुमान के मुताबिक वर्ष 2030 तक चीन अपनी जीडीपी का करीब 26 प्रतिशत और ब्रिटेन 10 प्रतिशत निवेश कृत्रिम बुद्धिमत्ता संबंधित गतिविधियों और व्यापार पर करेंगे। तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था एवं ... Read More »

चिकनगुनिया वायरस की पहचान के लिए नई तकनीक

उमाशंकर मिश्र Twitter handle : @usm_1984 भारतीय वैज्ञानिकों को बायोसेंसर आधारित ऐसी तकनीक विकसित करने में सफलता मिली है, जो चिकनगुनिया वायरस की पहचान में मददगार हो सकती है। वैज्ञानिकों के अनुसार, इस तकनीक का उपयोग चिकनगुनिया की त्वरित पहचान के लिए प्वाइंट ऑफ केयर उपकरण बनाने में किया जा ... Read More »

झूठ क्यों बोलते हैं राहुल गांधी?

– लोकेन्द्र सिंह कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और उनके राजनीतिक सलाहकारों का राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संबंध में अध्ययन ठीक नहीं है। इसलिए जब भी राहुल गांधी संघ के संबंध में कोई टिप्पणी करते हैं, वह बेबुनियाद और अतार्किक होती है। संघ के संबंध में वह जो भी ... Read More »

प्रकृति को भी समझो, कहीं देर न हो जाए!

-ऋतुपर्ण दवे rituparndave@gmail.com धरती बीमार है, बीमारी गंभीर है! आसमान हांफ रहा है, सांस लेने तक को साफ हवा नहीं! पाताल सूख रहा है, पीने तक का पानी उसके गर्भ में नहीं? स्थिति विकट है तो क्या विनाश निकट है! ये कुछ वो गंभीर सवाल हैं जो हम आने वाली ... Read More »