पर्यावरण

जल प्रदूषण से निजात दिलाऐगा एसएसएफ

स्लो सेंड फिल्टर गंगा सहित देश की अन्य नदियों को मानव जनित प्रदूषण से बचाने की जरूरत लंबे समय से महसूस की जा रही है। इस दिशा में गुरुकुल कांगड़ी विवि व आईआईटी का एक संयुक्त शोध महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। दोनों शीर्ष संस्थानों के विज्ञानियों ने स्लो सेंड ... Read More »

पर्यावरण के अनुकूल हैं जैविक-शौचालय

गंदे और बदबूदार सार्वजनिक शौचालयों से निजात दिलाने के लिए जापान की एक गैर सरकारी संस्था ने ‘जैविक-शौचालय’ विकसित करने में सफलता हासिल की है। ये खास किस्म के शौचालय गंध-रहित तो हैं ही, साथ ही पर्यावरण के लिए भी सुरक्षित हैं। समाचार एजेंसी ‘डीपीए’ के अनुसार संस्था द्वारा विकसित ... Read More »

प्रकृति की अमूल्य रचना है पक्षी

पूरे विश्व में पिछले 30 सालों में पक्षियों की 21 प्रजातियां लुप्त हो गई, जबकि पहले औसतन सौ साल में एक प्रजाति लुप्त होती थी। यह आंकड़ा भले ही हमें आश्चर्य में डाल दें, पर यह सच है। यदि हम जल्द ही इन्हें बचाने के लिए कोई कदम नहीं उठाते ... Read More »

पौधों के विकास के लिए बाधक है कृत्रिम प्रकाश

रात में कृत्रिम प्रकाश के कारण न सिर्फ पौधों का विकास बाधित हो रहा है , बल्कि उन पौधों पर आश्रित कीटों की संख्या में भी गिरावट आई है। एक ताजा अध्ययन में यह खुलासा हुआ है । अध्ययन के अनुसार, रात्रि के समय स्री आट लैप के कारण होने ... Read More »

होली के लिए हर्बल गुलाल

होली खेलने के शौकीन अब त्वचा की बीमारियों से बच सकते है,  क्योकि हर्बल सौन्दर्य प्रसाधन बनाने वाली भारत की प्रमुख कंपनी शहनाज हुसैन समूह ने सुरक्षित होली के लिए हर्बल गुलाल पेश किया है। त्वचा के लिए पूरी तरह  सुरक्षित होने के साथ ही यह बीमारियों से भी बचाएगा। ... Read More »

मेकअप में मिला प्लास्टिक काफी नुकसानदेह हो सकता है

क्रीम की डिब्बी पर बना खूबसूरत-सा बादाम या एलोवेरा लोगों को यह मानने पर मजबूर कर देता है कि पूरी की पूरी क्रीम इन्ही प्राकृतिक चीजों पर बनी है। लेकिन सच्चाई इससे बहुत दूर है। अक्सर गुलाब या बादाम क्रीम का मात्र एक प्रतिशत ही बनते है बाकी होते है ... Read More »

पानी बचाना है तो बिजली बचाइये

अरुण तिवारी भारत में पानी पर बात करने के लिए दिवस और भी बहुत हैं। अक्षय तृतिया, गंगा दशहरा, कजरी तीज, देवउठानी एकादशी, कार्तिक पूर्णिमा, मकर संक्रांति आदि आदि। 22 मार्च को अंतरराष्ट्रीय जल दिवस तो होता है तो क्यों न बात अंतरराष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में कर ली जाए। भारत के ... Read More »

हुड़दंग हो गई होली

बी पी गौतम धार्मिक मान्यताओं और सामाजिक परंपराओं को याद दिलाने वाले त्योहार होली को भी पाश्चात्य संस्कृति का ग्रहण लगता जा रहा है। ईश्वर और प्रकृति की सत्ता का अहसास कराने वाले इस त्योहार को मनाने की जगह सेलिब्रेट करने की परंपरा बढ़ती जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में ... Read More »

तुलसी गुणों की खान

रविन्द्र स्वप्निल प्रजापति  हममें से संभवतः ज्यादातर लोग तुलसी के पौधे को पहचानते होंगे। सभी हिन्दुओं के घरों में प्रायः तुलसी चौरा होता है जहाँ प्रतिदिन इसकी पूजा की जाती है । यह न सिर्फ हमारे घरों में पूजनीय है, बल्कि इसमें कई औषधीय गुण भी हैं। इसका स्‍वाद भले ही ... Read More »

सेलफोन टॉवर से सावधान रहना जरूरी

मानव इतिहास में पाषाण काल, पुनर्जागरण काल, अंधकार युग, औद्योगिक युग, अंतरिक्ष युग आदि कुछ प्रसिद्ध काल खंड है। लेकिन मानव इतिहास के बीते दस हजार वर्ष के काल में विद्युत-चुंबकीय युग जैसा कोई काल खंड सुनने में नहीं आया है। जबकि इसके बारे में हमें जानकारी होनी चाहिए, क्योंकि ... Read More »