फीचर्स

ये मॉडल बता सकता है भूकंप का कारण

भारतीय मूल के एक शोधकर्ता सहित कई वैज्ञानिकों ने मिलकर एक ऐसा मॉडल ईजाद किया है जिसके बारे में उनका दावा है कि इससे भूकंपों और उनका कारण बनने वाले बलों के बीच संबंधों का पता लगाया जा सकेगा।  स्टोनी ब्रूक यूनिवर्सिटी के ऐत्रेयी घोष और उनके सहकर्मियों के अनुसार ... Read More »

दिल को खतरे में डाल रहे मंजन व टूथपेस्ट !

पवन कुमार मिश्र, पटना हम दिन की शुरुआत मंजन या टूथपेस्ट से दांत साफ करने के साथ करते हैं। लेकिन हम नहीं जानते कि बाजार में उपलब्ध एक से बढ़कर एक कीटाणुनाशक टूथपेस्ट और दंत मंजन के इस्तेमाल से स्वास्थ्य पर बुरा असर भी पड़ता है। एक शोध में कई ... Read More »

मलेरिया की नकली दवा से जान को खतरा

वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि कई अफ्रीकी देशों में मलेरिया की फर्जी और कम गुणवत्तापूर्ण दवाएं खुलेआम बेची जा रही हैं जिससे इस महाद्वीप में इस जानलेवा बीमारी को नियंत्रित करने के प्रयासों के लिए बड़ा खतरा उत्पन्न हो गया है। वेलकम ट्रस्ट महोसोत अस्पताल ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ट्रॉपिकल मेडिसिन ... Read More »

दवा परीक्षण का दंश झेलते गरीब

इंदौर के बहुचर्चित अवैध चिकित्सीय परीक्षण मामले के खुलासे के बाद राज्य की शिवराज सरकार से उम्मीद थी कि वह उन अस्पतालों, जहां ये गैर कानूनी ड्रग ट्रायल हुए और वे डॉक्टर जो इस अपराध में शामिल थे उनके खिलाफ कोई सख्त कार्यवाही करती। परंतु इन तमाम उम्मीदों के खिलाफ ... Read More »

जल्द उपलब्ध होगा ब्लड कैंसर का इलाज

वैज्ञानिकों ने ब्लड कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का नया इलाज खोजने का दावा किया है। उन्हें कैंसर की कोशिकाओं में उस प्रोटीन को नष्ट करने में सफलता मिली है, जिसकी मौजूदगी में ये कोशिकाएं वृद्धि करती हैं। इन कोशिकाओं को मायलॉयड ल्यूकेमिया सेल कहते हैं। ऑस्ट्रेलिया के वॉल्टर एंड एलिजा ... Read More »

विलुप्त हो रहीं पहाड़ी भाषाएं

शंकर सिंह भाटिया, देहरादून यूनेस्को की रिपोर्ट में यह बात साफ तौर पर सामने आई है कि उत्तराखंड में सबसे अधिक बोली जाने वाली गढ़वाली, कुमाऊंनी और जौनसारी बोली-भाषाएं भी लुप्त होने के कगार पर हैं। लोग इन बोली-भाषाओं का प्रयोग करने से बच रहे हैं। छोटे-छोटे समूहों द्वारा प्रयोग ... Read More »

जल्दी बूढ़ा नहीं होने देता दूध

शोधकर्ताओं के अनुसार दूध पीने से दिमागी ताकत बढ़ जाती है। एक नए अध्ययन में वैज्ञानिकों ने कहा है कि इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि दूध दिमाग को तरोताजा रखते हुए व्यक्ति को समय से पहले वृद्ध होने से बचाता है। उम्र चाहे कितनी भी हो, अगर आप ... Read More »

सिनेमा, टेलीविजन और संस्कृति पर डॉ. चन्द्रप्रकाश द्विवेदी का व्याख्यान

भोपाल । लगभग डेढ दशक पहले ऎतिहासिक धारावाहिक “चाणक्य” के कथानक और प्रस्तुतिकरण से देश-विदेश में चर्चित हुए डॉ. चन्द्रप्रकाश द्विवेदी भोपाल प्रवास पर आ रहे हैं। डॉ. द्विवेदी जी बहुमुखी प्रतिभा के व्यक्तित्व हैं। वे भारतीय मूल्य, संस्कृति और परम्पराओं के अध्येता भी हैं। डॉ. चन्द्रप्रकाश द्विवेदी ने ज्ञानपीठ पुरस्कार ... Read More »

यहां बढ़ते कुपोषण की किसे है चिंता

एक रिपोर्ट से पता चलता है कि भारत में अत्यधिक गरीबी के चलते पांच वर्ष से कम आयु के 42 प्रतिशत बच्चे कुपोषण का शिकार हैं, जो अपनी आयु की तुलना में कम भार वाले हैं। 59 बच्चों प्रतिशत बच्चे अपनी आयु की तुलना में छोटे कद के हैं। सर्वेक्षण ... Read More »

ज्ञान के इस दौर में विज्ञान का ठौर कहां

हाल ही में अपने शहर के एक नामी स्कूल में विज्ञान मॉडल प्रदर्शनी देखने का मौका मिला। उसे देखकर पच्चीस साल पहले की विज्ञान प्रदर्शनियां आंखों में तैर गईं। दोनों में क्या कुछ अंतर था? अफसोस, कुछ भी नहीं। जो विज्ञान मॉडल उस समय प्रदर्शित किए जाते थे, वैसे ही ... Read More »