मीडिया कार्यशाला

मीडिया चौपाल 2016 में भागीदारी के लिये शीघ्र पंजीयन करें

 इस वर्ष 22-23 अक्टूबर, 2016 (शनिवार-रविवार) को हरिद्वार में विकास और मीडिया के अंतरसंबंधों की पडताल होगी। भोपाल। मीडिया चौपाल में आपका स्वागत है। संचार माध्यमों में संचारकों की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है. संचारक ही संचार माध्यमों को आम जनता के लिए सरल, सहज, अनुकूल और उपयोगी बनाता है. इसीलिये ... Read More »

धरती के अस्तित्व को बचाने वाली नादियां अब अपना अस्तित्व खोज रही है…

मीडिया चौपाल से लौटकर “नदी संरक्षण एवं पुनर्जीवन” विषय पर अपना अनुभव साझा करते उमा शंकर पटेल पोथी पढि़-पढि़ जग मुआ पंडित भया न कोय ढाई आखर प्रेम का, पढ़े सो पंडित होय, नदियों के मामले में प्रेम के वो ढाई आखर क्या हैं, अधिकांश हम जन-संचारकों (मीडियाकर्मी) में जलवायु ... Read More »

त्वरित कार्यवाही की आवश्यकता है मुरार नदी को

ग्वालियर मीडिया चौपाल से लौटकर प्रतिभा कटियार  ग्वालियर : ना तो  हम किसी अभियान में शामिल होने जा रहे, और ना किसी परियोजना का हिस्सा बनने, मुद्दा है मुरार नदी का जिस पर कोई दीर्घकालीन योजना नहीं, बल्कि त्वरित कार्यवाही करने की आवश्यकता  है।  मामला नदी सरंक्षण व् पुनर्जीवन से जुड़ा है और इन दोनों ... Read More »

सूख रही हैं धरती की धमनियाँ

ग्वालियर मीडिया चौपाल से लौटकर सरिता अरगरे धरती की धमनियाँ सूख रही हैं। अपने अस्तित्व को बचाने के लिए तरह-तरह से संकेत दे रही हैं। कभी बाढ़ के माध्यम आगाह कर रहती हैं, तो कहीं सूरज की तपन से सकुचा कर गर्मी की दस्तक सुनते ही अपना दामन समेट लेती ... Read More »

मीडिय चौपाल में मीडिया की चर्चा

Read More »

मीडिया चौपाल के विभिन्न चर्चा सत्र

Read More »

मीडिया चौपाल : उदघाटन से समापन तक

Read More »

चौपालियों के मन की बात : अब संवरेंगी चीलर नदी

राजा राठौर शाजापुर। शाजापुर जिला चंबल की जल निकासी क्षेत्र का एक हिस्सा है जो यमुना की प्रमुख नदी है। चंबल ही जिले की पश्चिमी सीमा से परे उत्तर की और बहती हैं। जिलें में बह सहायक नदियों में पार्वती, नेवज, कालीसिंध, लखुन्दर, टिल्लर, चीलर तथा छोटी काली सिंध नदीयां ... Read More »

चौपालियों की मन की बात : Do we know about smaller rivers !

study on smaller rivers in UP Garima Rai (garima.rai93@yahoo.in) , Nisha Sharma and Sanjay Pandey, Lucknow University Abstract One of the important objectives of communication is to create awareness among people. Whenever we talk about the rivers, we only talk about Ganga, Yamuna and some other big rivers in the ... Read More »

चौपालियों के मन की बात : बरसाती नदियों का भविष्य

जया शर्मा हम केवल बड़ी नदियों के विषय में ही विचार करते हैं। उनके जल स्तर, रखरखाव, संरक्षण आदि के बारे में प्रयास करते हैं। हम उन छोटी नदियों के बारे में क्यों सोच विचार नहीं करते जो इन बड़ी नदियों के जल स्तर को बनाए रखने में खुद मिट ... Read More »