समाचार

भारतीय शोधकर्ताओं ने विकसित किया जहरीले रसायनों का डेटाबेस

दिनेश सी. शर्मा Twitter handle: @dineshcsharma पर्यावरण या फिर दैनिक जीवन से जुड़े उत्पादों के जरिये हर दिन हमारा संपर्क ऐसे रसायनों से होता है, जो सेहत के लिए हानिकारक होते हैं। इस तरह के रसायन उपभोक्ता उत्पादों से लेकर कीटनाशकों, सौंदर्य प्रसाधनों, दवाओं, बिजली की फिटिंग से जुड़े सामान, ... Read More »

जलियांवाला बाग : हमारे घाव ज्यों के त्यों

आज १३ अप्रैल है, आज ही के दिन  अमृतसर के जालियांवाला बाग में सैकड़ों निहत्थे लोगों की हत्या की गई थी | यह १३ अप्रैल १९१९ थी | यह घटना ब्रिटिश उपनिवेशवाद के क्रूरतम अपराधों में से एक है. औपनिवेशिक शासन के विरुद्ध हमारे स्वतंत्रता आंदोलन का इतिहास बलिदानों की ... Read More »

प्राकृतिक रेशों से कंपोजिट प्लास्टिक बनाने की नई विधि विकसित

उमाशंकर मिश्र Twitter handle : @usm_1984 बढ़ती पर्यावरणीय चुनौतियों को देखते हुए दुनियाभर में ईको-फ्रेंडली पदार्थों के विकास पर जोर दिया जा रहा है। भारतीय शोधकर्ताओं ने अब जूट और पटसन जैसे प्राकृतिक रेशों के उपयोग से पर्यावरण अनुकूल कंपोजिट प्लास्टिक का निर्माण किया है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), मंडी ... Read More »

वैज्ञानिकों ने खोजे गेहूंमें रोग प्रतिरोधी जींस

उमाशंकर मिश्र Twitter handle : @usm_1984 भारतीय वैज्ञानिकों ने गेहूं के ऐसे नमूनों की पहचान की है जिनमें पत्तियों में होने वाले रतुआरोग से लड़ने की अनुवांशिक क्षमता पायी जाती है। इननमूनों में पाए जाने वाले कुछ जींसनई रतुआ प्रतिरोधी किस्मों के विकास में मददगार हो सकते हैं। एक अध्ययन ... Read More »

इन घोषणाओं, वायदों के लिए धन कहाँ से लाओगे ?

राकेश दुबे …और भाजपा का भी  घोषणा पत्र संकल्प पत्र के नाम से आ गया | इसमें भी बहुत सी लोक लुभावन बातें है | सवाल भाजपा- कांग्रेस दोनों से है इतनी राहत देने वाली योजनायें लागू  करने के लिए धन कहाँ से आएगा ? कर के बोझ तले देश ... Read More »

देश की नदी घाटियों में नहीं है सूखे से उबरने की क्षमता

उमाशंकर मिश्र Twitter handle : @usm_1984 तापमान, वर्षा और मिट्टी की नमी जैसे जलवायु कारकों में बदलाव का असर वनस्पतियों के फैलाव और उनकी वृद्धि पर पड़ता है।इन बदलावों के चलते भारत की विभिन्न नदी घाटियों के दो तिहाई हिस्से में मौजूद वन एवं कृषि क्षेत्रों में सूखे से उबरने ... Read More »

डिजिटल मीडिया और हिंदी : संभावनाएँ और चुनौतियाँ

  ( देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के अंतर्गत पत्रकारिता एवं जनसंचार अध्ययनशाला में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी ) इंदौर। पत्रकारिता के भी दो पहलू होते हैं एक सकारात्मक दूसरा नकारात्मक और वर्तमान समय में डिजिटल मीडिया ने पत्रकारिता को सुदृढ़ किया है। पत्रकारिता सुगंध की तरह होना चाहिए ना की दुर्गंध ... Read More »

“गुटखा-खैनी के नियंत्रण के लिए राष्ट्रीय मिशन जरूरी”

उमाशंकर मिश्र Twitter handle :@usm_1984 (इंडिया साइंस वायर) :गुटखा और खैनी जैसेतम्बाकू उत्पादों का सेवन करने वाले दुनिया के 65 प्रतिशत लोग भारत में हैं और यहां मुंह के कैंसर के 90 प्रतिशत मामलेइन उत्पादों के उपयोग की वजह से ही होतेहैं। इसीलिए तंबाकू उपयोग के नियंत्रण के लिए एक ... Read More »

निश्चित प्रारूप में और निश्चित स्थान पर ही बनेगा राम मंदिर : संघ

पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन के क्षेत्र में संगठित व योजनाबद्ध रूप से कार्य करेगा संघ : भय्याजी जोशी ग्वालियर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भय्याजी जोशी ने ग्वालियर में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रतिनिधि सभा के अंतिम दिन प्रेस वार्ता में कहा कि बैठक में संघ कार्य की समीक्षा ... Read More »

चार युवा वैज्ञानिकों को मिलेगा विज्ञान लेखन पुरस्कार

उमाशंकर मिश्र Twitter handle : @usm_1984 शोध की अभिव्यक्ति के लिए लेखन कौशल को प्रोत्साहन (अवसर) नामक राष्ट्रीय प्रतियोगिता के तहत चुने गए चारयुवा वैज्ञानिकों को 28 फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के मौके पर पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। प्रतियोगिता के पीएचडी वर्ग के अंतर्गत एक लाख रुपये का प्रथम ... Read More »