आवर्त सारणी में तीन और रासायनिक तत्व | स्पंदन फीचर्स
Tuesday , 17 May 2022
समाचार

आवर्त सारणी में तीन और रासायनिक तत्व

Spread the love

–  सारिणी में संख्या बढ़कर 109 से होगी 112, नामों पर मुहर
लंदन। वैज्ञानिकों ने तीन नए तत्वों को आवर्त सारिणी (पेरियडिक टेबल) में शामिल किया है। महान खगोलविद निकोलस कॉपरनिकस के नाम पर रखे गए एक तत्व समेत इन तीनों तत्वों के शामिल होने से आवर्त सारिणी में कुल 112 तत्व हो जाएंगे।

सारिणी में तत्वों को उनके परमाणु क्रमांक के मुताबिक जगह दी जाती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, संस्था इंटरनेशनल यूनियन ऑफ प्योर एंड एप्लायड फिजिक्स (आइयूपीएपी) की आम सभा ने इन नए तत्वों को आवर्त सारिणी में क्रमश: 110वें, 111वें और 112वें स्थान पर जगह दी है। जिन्हें क्रमश: डर्मेस्टेडियम (डीएस), रांटजेनियम (आरजी) और कॉपरनिसियम (सीएन) नाम से पुकारा जाएगा। 60 सदस्यीय इस सभा ने लंदन में इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिक्स की बैठक में इन नए तत्वों के नामों को स्वीकृति प्रदान की।
काफी पुरानी है खोज आईओपी के मुखिया डॉ. रॉबर्ट किरबी और आयूपीएपी के महासचिव हैरिस ने संयुक्त रूप से दिए अपने बयान में कहा कि तीनों तत्वों का नामकरण दुनिया भर के भौतिकविदों की आपसी सहमति से किया गया है। हम सब अब इन तत्वों को आवर्त सारिणी में देखकर काफी खुश हैं। भले ही इन तत्वों के नामकरण की आधिकारिक मान्यता अभी मिली है, इनकी खोज बहुत पहले की जा चुकी थी। काफी समय से इन्हें आवर्त सारिणी में शामिल किए जाने की मांग उठती रही थी। कॉपरनिशियम की खोज 9 फरवरी, 1996 को ही कर ली गई थी। 19 फरवरी, 2010 को प्रख्यात वैज्ञानिक कॉपरनिकस के 537वीं जयंती के मौके पर इस तत्व का नाम रखा गया था। उल्लेखनीय है कि कॉपरनिकस पहले इंसान थे, जिन्होंने बताया था कि धरती सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)