Thursday , 6 August 2020
समाचार

कौशल विकास प्रशिक्षण ले रहे युवाओं ने निवारी में देखा जैविक खाद उत्पादन

Spread the love

छतरपुर। शासन द्वारा युवाओं को विभिन्न विधाओं में दक्ष करने के लिए कौशल विकास कार्यक्रम के अन्तर्गत कृषि विस्तार एवं प्रशिक्षण केन्द्र नौगांव में चल रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लेने वाले युवाओं ने प्रगतिशील कृषक चितरंजन चैरसिया के खेत पर चल रही केचुआ पालन इकाई को देखा। भ्रमण के दौरान कृषि विस्तार एवं प्रशिक्षण केन्द्र नौगांव के सहायक संचालक जे.एस.राजपूत एवं वरिष्ठ ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी मिट्टी परीक्षण प्रयोगशाला श्री आर.के. बागरी उनके साथ थे। सहायक संचालक जे0एस0 राजपूत ने बताया कि शासन की योजना के अन्तर्गत युवाओं को विभिन्न रोजगार मूलक योजनाओं का लाभ दिलाने के उद्देश्य से यह प्रशिक्षण आयोजित किया गया है जिसमें 90 घण्टे का प्रशिक्षण विभिन्न विषय विशेषज्ञों द्वारा नौगांव में दिया जा रहा है। प्रगतिशील कृषक चितरंजन चैरसिया ने युवाओं को कैचुआ खाद बनाने व विभिन्न फसलों में उपयोग की विधि बताते हुये कहा कि युवा इससे स्वरोजगार के रूप में भी अपना सकते है। एवं युवाओं की शंकाओं का समाधान किया। श्री आर.के. बागरी ने बताया कि विभिन्न रासायनिक उर्वरकों और कीटनाशकों के लगातार प्रयोग से मिट्टी की उर्वरा शक्ति निरंतर कम हो रही है इसलिये जैविक खाद का प्रयोग करना चाहिये। जिससे मिट्टी के पोषक तत्वों की पूर्ति हो सके। सहायक संचालक जे0एस0राजपूत ने विभिन्न फसलों में जैविक खाद के प्रयोग से होने वाले लाभों के बारे में बताया। युवाओं ने यहां पर चल रहे वायो गैस इकाई का अवलोकन किया साथ ही विभिन्न फसलों का अवलोकन किया। भ्रमण के दौरान अनेक युवाओं ने प्रशिक्षण के बाद जैविक खाद का प्रयोग करने एवं जैविक खेती करने का आश्वासन दिया। भ्रमण के दौरान प्रभंजन चैरसिया एवं विभिन्न क्षेत्रों के लगभग 20 युवा उपस्थित रहे।

चितरंजन चैरसिया
मोबा. 9926745590

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)