Wednesday , 30 September 2020
समाचार

फीचर्स/आलेख

हिन्दी बोलना सम्मान या आत्मग्लानि

हमारी संस्था ‘ग्लोबल सोशल कनेक्ट’ ने आज हिंदी दिवस के उपलक्ष में “हिंदी बोलना: सम्मान या आत्मग्लानि” विषय पर एक अत्यंत महत्वपूर्ण वेबिनार का आयोजन किय।  इस विषय पर चर्चा के लिए कई  गण्यमान वक्ताओं ने भाग लिया जिनमे से कुछ नाम हैं डॉक्टर अनिल सौमित्र (राष्ट्रीय संयोजक – मीडिया ... Read More »

युवाओं में बढ़ता अवसाद

  अभिलाषा दिवेदी करीब तीन साल पहले की घटना है। मध्य प्रदेश के एक धनाढ्य परिवार ने, जो मुंबई में जा बसा था, अहले सुबह मुझे फोन किया। उनका इकलौता बेटा दिल्ली के डीपीएस में 12वीं कक्षा में पढ़ता था। वह उन दिनों गुमसुम रहने लगा था और उसकी असामान्य ... Read More »

मीडिया 2.0: चुनौतियां और संभावनाएं

Read More »

अयोध्या : 6 दिसंबर की आँखों देखी

प्रभात झा रामजन्मभूमि आन्दोलन के हुतात्माओं के प्रति शब्दांजलि रुपी श्रद्धांजलि वे  लोग भाग्यशाली होते हैं जो किसी घट रहे इतिहास को अपनी आँखों से देखते हैं l  यह मेरा सौभाग्य था कि मैं पत्रकार के नाते 6 दिसंबर] 1992 को रामलला जन्मभूमि के उस परिसर में  खड़ा था, जहां ... Read More »

अयोध्या श्रीराम लला का मंदिर : पाँच अगस्त, पाँच सौ वर्षों का संघर्ष और साधना

श्रीमती पिंकेश लता रघुवंशी पथ निहारते नयन…. श्री राम जन्मभूमि पूजन अपि स्वर्णमयी लङ्का न मे लक्ष्मण रोचते । जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी ॥  (वाल्मीकि रामायण) लंका विजयोपरांत लंका के वैभव और बनावट देख वहीं रहने के लक्ष्मण जी के आग्रह पर भगवान राम यही उत्तर तो देते हैं ” ... Read More »

सच मुच काेेरोना की वैक्‍सीन या धोखा …

जैसे-जैसे नए-नए तथ्य सामने आ रहे हैं, वैसे-वैसे साफ़ होता जा रहा है कि कोरोना का पूरा मसला असल में असलियत कम फ़साना ज़्यादा है। जिस अमेरिका में सबसे ज़्यादा हाहाकार वाली स्थिति दिख रही है, उस अमेरिका की ही चौथाई से ज़्यादा आबादी यानी आठ-नौ करोड़ लोग अब कहने ... Read More »

25जुलाई1880 गणेशवासुदेव जोशी का निधन खादी और स्वदेशी का सबसे पहले प्रचार किया

1857 की क्रान्ति की असफलता के बाद अंग्रेजों की आर्थिक कमर तोड़ने का फार्मूला सबसे पहले सुप्रसिद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी गणेश वासुदेव जोशी ने प्रस्तुत किया था । उस समय अंग्रेज सारा रा-मेटेरियल भारत से ले जाते थे और अपने कारखानों में बना समान भारत में खपाते थे । दुनियाँ ... Read More »

कैंसर की दवा के विकास में शोधकर्ताओं को मिली नई सफलता

उमाशंकर मिश्र Twitter: @usm_1984 नई दिल्ली, 09 जून, (इंडिया साइंस वायर):कैंसर की दवा के विकास से जुड़े अपने अध्ययनमें इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटिग्रेटिव मेडिसिन (आईआईआईएम), जम्मू के शोधकर्ताओं को एक महत्वपूर्ण सफलता मिली है। अपने अध्ययन में शोधकर्ताओं ने एक ऐसे तत्व का पता लगाया है, जिसमें अग्नाशय के कैंसर ... Read More »

स्कूली छात्रों के लिए इसरो कर रहा है प्रतियोगिताओं का आयोजन

उमाशंकर मिश्र Twitter handle: @usm_1984 नई दिल्ली, 12 जून (इंडिया साइंस वायर): कोविड-19 के प्रकोप के चलते शुरू हुए लॉकडाउन के कारण स्कूलों की पढ़ाई और परीक्षाओं पर असर पड़ने के साथ-साथ छात्रों को अबगर्मियों की छुट्टियां भी घर में बंद रहकर बितानी पड़ रही हैं।भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ... Read More »

संरचनात्मक इंजीनियरी की इबारत लिखता एक संस्थान

उमाशंकर मिश्र Twitter handle: @usm_1984   नई दिल्ली, 11 जून: इंजीनियरी कौशल हमेशा इन्सान को चमत्कृत करते रहे हैं। फ्रांस केमशहूरएफिल टावर जैसी गगनचुंबी संरचनाएं, पहाड़ की छाती को चीरकर बनायी जाने वाली जम्मू-कश्मीर की पीरपंजाल रेलवे सुंरग जैसी अनूठी सुरंगें, देश की मुख्य भूमि को पाम्बन द्वीप से जोड़ने ... Read More »