Wednesday , 30 September 2020
समाचार

समाचार

..और निर्मला ने खड़ा कर दिया अपने पांव पर गांव

भोपाल। नर्मदा किनारे बसे होने के बावजूद उस गांव के बाशिंदे प्यासे थे। 60 साल तक गांव में पानी नहीं पहुंचा। गांव की महिलाओं को पानी के लिए एक किमी दूर जाना पड़ता था। नगर निगम की सीमा में होने के बावजूद शासन-प्रशासन ने इस गांव की सुध नहीं ली। ... Read More »

सांसों से बिजली पैदा करने की हो रही तैयारी

सूरज की किरणों से लेकर मलमूत्र और कचरा तक से विद्युत पैदा करने के बाद अब नाक से बिजली बनाने की बारी है। सुनने में यह भले ही अजीब लगे, लेकिन वैज्ञानिकों का दावा है कि वे एक ऐसी तकनीक विकसित करने में जुटे हैं, जो सांस ऊर्जा पैदा कर ... Read More »

बैल बनाएगा बिजली

– ढूंढ निकाला बिजली बनाने का ईको फ्रेंडली तरीका – भोपाल में ही बनी ईको-फ्रेंडली तकनीक कोल्हू में बैल के गोल-गोल चक्कर लगाने से तेल निकालने की प्रक्रिया तो लगभग सभी ने देखी होगी, लेकिन क्या आपने कभी बैल को बिजली बनाते हुए देखा है। यह महज आश्चर्य करने की ... Read More »

मनोरोग इलाज पर ज्यादातर देश नहीं दे रहे ध्यान:डब्ल्यूएचओ

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का कहना है कि दुनिया के ज्यादातर देश अब भी मनोरोग मामले में सुस्त रवैया अपनाए हुए हैं। ज्यादातर देशों के स्वास्थ्य संसाधनों के लिए आवंटित राशि में से दो फीसदी भी मानसिक रोगों के इलाज पर खर्च नहीं होता। ‘मेंटल हेल्थ एटलस-2011’ के ताजा ... Read More »

गांव-शहरों में लगाई जाएगी कॉमन सर्विस डिलीवरी एक्सेस पॉइंट मशीन

संतोष ठाकुर, नई दिल्ली सरकारी कार्यालय में जिस प्रमाण-पत्र या कार्य के लिए आपने आवेदन दिया है, उसकी स्थिति क्या है और कार्य की क्या प्रगति है, इसकी जानकारी आपको आने वाले समय में एक मशीन उपलब्ध कराएगी। यह आपके घर के नजदीक बाजार, मोहल्लों में उपलब्ध होगी। दूरसंचार एवं ... Read More »

नुक्कड़ नाटक के जरिए पढ़ाएगी विज्ञान का पाठ

भोपाल। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्र्वविद्यालय की छात्रा अंकिता मिश्रा को भारत सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, दिल्ली की ओर से रजत जयंती विज्ञान संचारक फैलोशिप 2010 प्रदान की गई है। इस फैलोशिप के लिए देशभर से आठ प्रतिभागियों का चयन हुआ है। फैलोशिप के तहत ... Read More »

बच्चों में भी है सही-गलत की समझ

लंदन। अगर आप सोचते हैं कि शिशु सही और गलत के बारे में अहसास नहीं कर सकते, तो वैज्ञानिकों का एक नया शोध आपकी इस सोच को बदल सकता है। नए शोध के अनुसार नवजात भी सिर्फ प्रेम ही नहीं बल्कि भेदभाव, साम, दाम, दंड जैसे भावों को पहचानते हैं। ... Read More »

हर जिले में पालीटेक्निक और आईटीआई

भोपाल। युवाओं को मल्टी मीडिया एवं एनीमेशन के क्षेत्र में बेहतर शिक्षा देने के उद्देश्य से सोमवार को तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री महेंद्र हार्डिया ने सरदार वल्लभ भाई पटेल पाॅलीटेक्निक काॅलेज भोपाल में सेंट्रल आॅफ एक्सीलेंस लेब का शुभारंभ किया। श्री हार्डिया ने मौके पर कहा कि मप्र में तकनीकी ... Read More »

आखिर क्यों आता है गुस्सा

व्यक्ति के दिमाग में सिरोटोनिन हार्मोन के स्तर में होने वाला बदलाव दिमाग के उस हिस्से पर प्रभाव डालता है, जो गुस्से को नियंत्रित करता है। यह बदलाव तब होता है जब कोई व्यक्ति भूखा या तनाव में होता है। यूनिवर्सिटी आॅफ कैब्रिज में हुए अध्ययन में यह दावा किया ... Read More »

जानलेवा बीमारियों के इलाज के लिए तीन को साझा नोबेल

कैंसर और गठिया जैसी बीमारियों का उपचार किया आसान एजेंसी / स्टॉकहोम शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता की जटिल कार्यप्रणाली के रहस्य से पर्दा हटाने तथा कैंसर एवं संक्रामक बीमारियों के कारगर इलाज में मदद देने के लिए तीन प्रमुख वैज्ञानिकों अमेरिका के ब्रूस बीटलर, लक्जमबर्ग के ज्यूल्स हॉफमैन और ... Read More »