Friday , 28 January 2022
समाचार

कोरोना काल – डरना नही है लड़ना है …

Spread the love

मानव सभ्यता को लीलने आया महा काल सदी का सबसे खतरनाक वायरस, कोरोना एक महा त्रासदी जिस से पूरा विश्व लड़ रहा है समस्त विश्व मे त्राहि त्राहि मचा दी है, मन मे प्रश्न आता है इस छोटे से वायरस मे आखिर हैं क्या जिसने चोरी- छुपके अपना काला साम्राज्य फैला लिया है, जिसके फलस्वरूप मानव सभ्यता खतरे मे आ गई हैं, पूरा का पूरा विश्व ,महा शक्तिशाली देश भी इस सूक्ष्म वायरस से निजात पाने मे लगे है परंतु सफलता नही मिल रही उसका कारण इसकी प्रवर्ति जो कि हर एक पल मे बदल जाती हैं वैज्ञानिक भी हैरान हैं इसकी रचना को ले कर इसलिए किसी भी तरह की सफलता नही मिल रही हैं!

कोविड 19 है क्या इसके बारे मे कम ही पता है बहुत ही सूक्ष्म वायरस है पर उतना ही प्रभावी ,ये मनुष्य के बाल की तुलना मे 900 गुना छोटा है इसका पहला केस दिसंबर 19 मे वुवान मे आया इसके शुरुआती लक्षण आम फ्लू की तरह ही होते है बुखार, खाँसी – जुखाम परंतु सबसे अलग बात ये हैं सांस लेने मे तकलीफ होती हैं, प्रभाव भी कम से कम 14 दिन के भीतर पता चलता है!

जब डॉ ने इस वायरस पर शोध की तो पाया की इसके लक्षण सार्स से मिलते जुलते हैं नोबल कोरोना वायरस, कोरोना वायरस का 7वाँ वायरस हैं, अब तक 6 तरह के कोरोना वायरस सामने आए हैं, इसकी अनुवांशिक सरंचना 80 फीसदी तक कि चमकादड़ो मे पाए जाने वाले सार्स वायरस जैसी है…

ये सब तो कोरोना के संक्रमण से हुए नुकसान की बाते हुई सबसे महत्वपूर्ण इससे बचाव ज्यादा जरूरी हैं अभी इसका कोई उपचार और दवाई की खोज नही हुई हैं इसलिए खुद को घरेलू उपचार से बचा सकते है जो कि निम्नलिखित हैं-
1) गर्म पानी के गिरारे कम से कम दिन मे 3 बार करे इसे ज्यादा असरदार बनाने के लिए हल्दी भी डाल लें।
2) दिन मे कम से कम एक बार हल्दी वाला दूध पिये उसमे शहद डाले।
3) जब भी पानी पिये गर्म ही पिये जिसमे नीबू निचोड़ लें।
4) काढ़ा बनाये जिसमे पानी के अंदर तुलसी,दाल चीनी, काली मिर्च, लौंग, अजवाइन, अदरक डाल कर खूब उबाल लें जब भी पिये गर्म करके ही पिये।
5) मुन्नखे का सेवन दिन मे एक बार करे कम से कम 5-6 मुन्नखे खाये, इसके अलावा रात को गर्म दूध मे उबाल कर पिये।
6) एक छोटी सी पोटली बनाये उसमे अजवाइन, लौंग, लहसुन की कालिया गर्म करके बांध लें समय समय पर इसे सूंघते रहे ।
7) दूध मे रातके समय छुआरे उबाल कर पिये।
8) रात को सोते समय नासिका के भीतर सरसो का तेल लगा ले ।
9) हल्दी नमक बराबर मात्रा मे मिला कर फंकी ले गर्म पानी से…..

ये अपनी दिनचर्या मे शामिल कर ले किसी भी तरह का असर नही होगा ,हो भी गया तो लगातार उपचार करते रहे तो आराम आएगा…..संक्रमण हो भी गया हैं तो तब सबसे महत्वपूर्ण हैं खाना नही छोड़ना हैं जैसे ही खाना छोड़ दिया रोग-प्रतिरोध क्षमता खत्म होगी कोविड 19 तेज़ी से असर करेगा इसलिए आहार लगातार ले विटामिन सी का इस्तेमाल ज्यादा कर दे ….

भारतीय रसोई मे हर मर्ज का इलाज हैं, ऋषि – मुनियों के बताए नुस्खे कितने महत्वपूर्ण हैं, जिनका मूल्य आज पूरी दुनिया मान रही हैं।

तो डरना नही है लड़ना हैं वायरस इसी वातावरण मे उपजा हैं इसी वातावरण का हम भी अभिन्न अंग है इसलिए लड़ने की शक्ति खुद मिल जाती हैं, मानव सभ्यता को एक अदृश्य जीवाणु से लड़ाई लड़नी पड़ रही हैं पर जितना भी मानव को ही होगा।

हर्षिता यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)